Republic Day 2023: कंधे पर गोली खाकर भी आतंकी को मार गिराया, अब मिला कीर्ति चक्र, जानिए कौन हैं मेजर शुभांग

Major Shubhang: 74वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई. इस साल 2 कीर्ति चक्र और 7 शौर्य चक्र दिए जाएंगे. मेजर शुभांग और नायक जितेंद्र सिंह को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया जाएगा. मेजर शुभांग को कीर्ति चक्र उनके पराक्रम के लिए दिया जा रहा है. उन्होंने जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ चले एक ऑपरेशन में उनको गोली भी खाई थी. मेजर शुभांग डोगरा रेजिमेंट के हैं. उन्हें जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एक ऑपरेशन में वीरतापूर्ण भूमिका के लिए शांतिकाल के दूसरे सर्वोच्च वीरता पदक कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया है. उनकी बहादुरी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने इस ऑपरेशन के तहत एक आतंकी को मार गिराया था और अपने साथ के सैनिकों को सुरक्षित भी निकाला था, जबकि उनको गोली भी लगी थी. मेजर शुभांग का पराक्रम मेजर शुभांग ने अप्रैल 2022 को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में आतंकियों के खिलाफ बेहद मुश्किल हालातों में अपनी टीम का नेतृत्व किया. आतंकवादियों ने अंधाधुंध बड़े-छोटे हथियार चलाए और बैरल ग्रेनेड लांचर से गोलीबारी की जिसमें एक अधिकारी और उनकी टीम के दो कर्मी घायल हो गए. बाएं कंधे पर गोली लगने के बावजूद अडिग मेजर शुभांग ने अतुलनीय वीरता का प्रदर्शन किया और अत्यंत करीबी एक आतंकवादी को मार गिराया. Major Shubhang of the Dogra Regiment awarded the second highest peacetime gallantry medal Kirti Chakra for his gallant role in an operation in Budgam, Jammu-Kashmir where he killed a terrorist and safely evacuated his injured troops. pic.twitter.com/PEQkzS88a2 — ANI (@ANI) January 25, 2023 सशस्त्र बलों के कर्मियों को मिलेगा वीरता पुरस्कार रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 74वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति द्वारा इस बार सशस्त्र बलों के 412 कर्मियों को वीरता पुरस्कार और अन्य सम्मान दिए जाएंगे. इनमें 6 कीर्ति चक्र हैं, जो 4 सैनिकों को मरणोपरांत दिए जाएंगे. 15 शौर्य चक्र हैं, जिनमें दो सैनिकों को मरणोपरांत यह सम्मान मिलेगा. 19 परम विशिष्ट सेवा मेडल, 3 उत्तम युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू अति विशिष्ट सेवा मेडल, 32 अति विशिष्ट सेवा मेडल, 8 युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू सेना मेडल (वीरता) और 92 सेना पदक (वीरता) के लिए दिए जाएंगे. ये भी पढ़ें: Republic Day 2023: वीरता पुरस्कारों का एलान, मेजर शुभांग डोगरा और जितेंद्र सिंह राजपूत को कीर्ति चक्र

Republic Day 2023: कंधे पर गोली खाकर भी आतंकी को मार गिराया, अब मिला कीर्ति चक्र, जानिए कौन हैं मेजर शुभांग

Major Shubhang: 74वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई. इस साल 2 कीर्ति चक्र और 7 शौर्य चक्र दिए जाएंगे. मेजर शुभांग और नायक जितेंद्र सिंह को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया जाएगा. मेजर शुभांग को कीर्ति चक्र उनके पराक्रम के लिए दिया जा रहा है. उन्होंने जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ चले एक ऑपरेशन में उनको गोली भी खाई थी.

मेजर शुभांग डोगरा रेजिमेंट के हैं. उन्हें जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एक ऑपरेशन में वीरतापूर्ण भूमिका के लिए शांतिकाल के दूसरे सर्वोच्च वीरता पदक कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया है. उनकी बहादुरी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने इस ऑपरेशन के तहत एक आतंकी को मार गिराया था और अपने साथ के सैनिकों को सुरक्षित भी निकाला था, जबकि उनको गोली भी लगी थी.

मेजर शुभांग का पराक्रम

मेजर शुभांग ने अप्रैल 2022 को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में आतंकियों के खिलाफ बेहद मुश्किल हालातों में अपनी टीम का नेतृत्व किया. आतंकवादियों ने अंधाधुंध बड़े-छोटे हथियार चलाए और बैरल ग्रेनेड लांचर से गोलीबारी की जिसमें एक अधिकारी और उनकी टीम के दो कर्मी घायल हो गए. बाएं कंधे पर गोली लगने के बावजूद अडिग मेजर शुभांग ने अतुलनीय वीरता का प्रदर्शन किया और अत्यंत करीबी एक आतंकवादी को मार गिराया.

सशस्त्र बलों के कर्मियों को मिलेगा वीरता पुरस्कार

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 74वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति द्वारा इस बार सशस्त्र बलों के 412 कर्मियों को वीरता पुरस्कार और अन्य सम्मान दिए जाएंगे. इनमें 6 कीर्ति चक्र हैं, जो 4 सैनिकों को मरणोपरांत दिए जाएंगे. 15 शौर्य चक्र हैं, जिनमें दो सैनिकों को मरणोपरांत यह सम्मान मिलेगा. 19 परम विशिष्ट सेवा मेडल, 3 उत्तम युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू अति विशिष्ट सेवा मेडल, 32 अति विशिष्ट सेवा मेडल, 8 युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू सेना मेडल (वीरता) और 92 सेना पदक (वीरता) के लिए दिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें: Republic Day 2023: वीरता पुरस्कारों का एलान, मेजर शुभांग डोगरा और जितेंद्र सिंह राजपूत को कीर्ति चक्र