Kolkata: पति की दरिंदगी का शिकार नर्स रेणु खातून की मदद को आगे आईं सीएम ममता, दिए ये निर्देश

Mamata Banerjee: पश्चिम बंगाल(West Bengal) के पुरबा बर्धमान जिले में रविवार के दिन एक दिल-दहला देने वाला मामला सामने आया था. जिसमें एक पति ने अपने दोस्तों और माता-पिता के साथ मिलकर अपनी पत्नी का दाहिना हाथ काट दिया था. जिसके बाद इलाज के लिए कोलकाता (Kolkata) रेफर करने के बाद दुर्गापुर के एक निजी अस्पताल में उसका ऑपरेशन किया गया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी घायल नर्स रेणु खातून की मदद को आगे आईं हैं. उन्होंने इस बात का आश्वासन दिया है कि राज्य सरकार नर्स के कटे हुए हाथ के इलाज का सारा खर्च उठाएगी. इसके साथ ही उसे एक सरकारी नौकरी भी ऑफर की जा रही है. सीएम ने दिया मदद का आश्वासन कोलकाता के केतुग्राम के चिनीसपुर की नर्स रेणु खातून को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को सरकारी नौकरी और कृत्रिम हाथ का आश्वासन दिया है. इसके साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव एच के द्विवेदी को इस बात के निर्देश दिए हैं कि स्वास्थ्य साथी कार्ड होने के बावजूद इलाज के दौरान नर्स को 57 हजार रुपए किसलिए खर्च करने पड़े. हाथ का इलाज होगा मुफ्त सीएम ममता बनर्जी ने एक मीडिया से बात करते हुए बताया कि उनकी सरकार रेणु खातून के लिए तीन काम कर रही है. उनका कहना है कि सबसे पहले उनके दाहिने हाथ का इलाज मुफ्त करने के साथ ही उन्हें कृत्रिम हाथ प्रदान किया जाएगा, वह नर्सिंग परीक्षा के पैनल में 22 वें नंबर पर थी,ऐसे में हम उसे ऐसी नौकरी के पेशकश कर रहे हैं. जिसे वह बैठकर आराम से कर सकें. ममता बनर्जी के अनुसार उनके द्वारा लॉन्च किया गया स्मार्ट कार्ड अस्पतालों में प्रति परिवार हर साल 5 लाख तक कैशलेस इलाज करने की सुविधा देता है, ऐसे में स्वास्थ्य साथी कार्ड के होने के बावजूद नर्स को 57 हजार का भुगतान क्यों करना पड़ा इसकी जांच की जा रही है. पति ने दोस्तों और माता-पिता संग मिलकर काट दिया हाथ बता दें कि 23 वर्षीय रेणु खातून के पति को उनका काम करना पसंद नहीं था. कई बार मना करने के बाद जब वह नहीं मानी तो उनके पति ने अपने दो दोस्तों और माता-पिता संग मिलकर उसका दाहिना हाथ ही काट दिया. नर्स के पिता अजीजुल हक की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.  फिलहाल मामले में पुलिस ने तेजी से जांच करते हुए अब तक नर्स के सास-ससुर को गिरफ्तार(Arrested) करने के बाद फरार चल रहे उसके पति को भी गिरफ्तार कर लिया है. वहीं पुलिस अभी भी नर्स(Nurse) के पति के दोस्तों की तलाश में लगी हुई है. जिन्होंने इस दिल-दहला देने वाली घटना में उसके पति का साथ दिया था. इसे भी पढ़ेंःआखिर कैसे बैन PUBG गेम को खेलकर एक बच्चे ने कर दिया अपनी ही मां का कत्ल? Maharashtra Corona Update: महाराष्ट्र में चार महीने बाद एक दिन में कोरोना के सबसे अधिक 2701 नए केस, मुंबई में 1765 मामले

Kolkata: पति की दरिंदगी का शिकार नर्स रेणु खातून की मदद को आगे आईं सीएम ममता, दिए ये निर्देश

Mamata Banerjee: पश्चिम बंगाल(West Bengal) के पुरबा बर्धमान जिले में रविवार के दिन एक दिल-दहला देने वाला मामला सामने आया था. जिसमें एक पति ने अपने दोस्तों और माता-पिता के साथ मिलकर अपनी पत्नी का दाहिना हाथ काट दिया था. जिसके बाद इलाज के लिए कोलकाता (Kolkata) रेफर करने के बाद दुर्गापुर के एक निजी अस्पताल में उसका ऑपरेशन किया गया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी घायल नर्स रेणु खातून की मदद को आगे आईं हैं. उन्होंने इस बात का आश्वासन दिया है कि राज्य सरकार नर्स के कटे हुए हाथ के इलाज का सारा खर्च उठाएगी. इसके साथ ही उसे एक सरकारी नौकरी भी ऑफर की जा रही है.

सीएम ने दिया मदद का आश्वासन

कोलकाता के केतुग्राम के चिनीसपुर की नर्स रेणु खातून को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को सरकारी नौकरी और कृत्रिम हाथ का आश्वासन दिया है. इसके साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव एच के द्विवेदी को इस बात के निर्देश दिए हैं कि स्वास्थ्य साथी कार्ड होने के बावजूद इलाज के दौरान नर्स को 57 हजार रुपए किसलिए खर्च करने पड़े.

हाथ का इलाज होगा मुफ्त

सीएम ममता बनर्जी ने एक मीडिया से बात करते हुए बताया कि उनकी सरकार रेणु खातून के लिए तीन काम कर रही है. उनका कहना है कि सबसे पहले उनके दाहिने हाथ का इलाज मुफ्त करने के साथ ही उन्हें कृत्रिम हाथ प्रदान किया जाएगा, वह नर्सिंग परीक्षा के पैनल में 22 वें नंबर पर थी,ऐसे में हम उसे ऐसी नौकरी के पेशकश कर रहे हैं. जिसे वह बैठकर आराम से कर सकें.

ममता बनर्जी के अनुसार उनके द्वारा लॉन्च किया गया स्मार्ट कार्ड अस्पतालों में प्रति परिवार हर साल 5 लाख तक कैशलेस इलाज करने की सुविधा देता है, ऐसे में स्वास्थ्य साथी कार्ड के होने के बावजूद नर्स को 57 हजार का भुगतान क्यों करना पड़ा इसकी जांच की जा रही है.

पति ने दोस्तों और माता-पिता संग मिलकर काट दिया हाथ

बता दें कि 23 वर्षीय रेणु खातून के पति को उनका काम करना पसंद नहीं था. कई बार मना करने के बाद जब वह नहीं मानी तो उनके पति ने अपने दो दोस्तों और माता-पिता संग मिलकर उसका दाहिना हाथ ही काट दिया. नर्स के पिता अजीजुल हक की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

फिलहाल मामले में पुलिस ने तेजी से जांच करते हुए अब तक नर्स के सास-ससुर को गिरफ्तार(Arrested) करने के बाद फरार चल रहे उसके पति को भी गिरफ्तार कर लिया है. वहीं पुलिस अभी भी नर्स(Nurse) के पति के दोस्तों की तलाश में लगी हुई है. जिन्होंने इस दिल-दहला देने वाली घटना में उसके पति का साथ दिया था.

इसे भी पढ़ेंः
आखिर कैसे बैन PUBG गेम को खेलकर एक बच्चे ने कर दिया अपनी ही मां का कत्ल?

Maharashtra Corona Update: महाराष्ट्र में चार महीने बाद एक दिन में कोरोना के सबसे अधिक 2701 नए केस, मुंबई में 1765 मामले